Full Attitudewali Shayari

मुझे इतनी
           फुर्सत कहाँ कि
     मैं तक़दीर का लिखा देखूं;

बस ..
                लोगों की
         गांड जलती देख कर
            समझ जाता हूँ, ..
        कि मेरी तक़दीर बुलंद है .. !!!

====================


उन्होंने कहा प्यार में दर्द है
हमने कहा दर्द कबूल है
उन्होंने कहा दर्द तुम सह नहीं पाओगे
हमने कहा ….. तुम्हारी माँ का भोसड़ा अब तुम हमें चोदना सिखाओगे

====================

एक औरत तेज चल रही ट्रेन मे दौड लगाकर चढी तो सब लोगोंने कहा :

“कमाल की औरत है, कमाल की औरत है..!”

तो उस औरत ने कहा :

“कमाल तो मेरा देवर है,
..मै जमाल की औरत हुं …!!”

Full Attitudewali Shayari
3.5 (70.59%) 17 votes